कृषक ऋण माफी तिहार : ऋण समायोजित नहीं हो पाए किसानों को भी मिल रहा ऋण

0
15

(रायपुर) छत्तीसगढ़ शासन द्वारा लोक हित में व्यापक पैमाने पर कृषकों को अल्पकालीन ऋण माफ किया गया है। सहकारिता के क्षेत्र में 13 लाख 46 हजार किसानों को लगभग 5260 करोड़ रूपए की ऋण माफी की गई है। इसी प्रकार राष्ट्रीयकृत वाणिज्यिक बैंक के लगभग 2 लाख 72 हजार कृषकों की और छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण बैंक के एक लाख 79 हजार कृषकों के कर्ज माफी की प्रक्रिया जारी है। जिन कृषकों द्वारा राष्ट्रीयकृत वाणिज्यिक बैंक अथवा ग्रामीण बैंक से कर्ज लिए गए थे या वर्तमान में अभी उनके खाते मंे बैंक स्तर पर समायोजन नहीं हो पाया है, इन किसानों को भी सहकारी समितियों द्वारा कर्ज दिया जा रहा है। 
सहकारिता के क्षेत्र मंे इतने वृहद पैमाने पर शासन द्वारा कृषक हित में कभी भी निर्णय लिया गया था। सर्वाधिक महत्वपूर्ण विषय यह है कि, शासन द्वारा घोषणा पत्र में किए गए वायदे के अनुरूप तत्काल कर्ज माफी का क्रियान्वयन किया गया। वर्तमान में 11 लाख 64 हजार कृषकों को ऋण माफी का प्रमाण पत्र वितरित किया जा चुका है और एक लाख 82 हजार कृषकों का प्रमाण पत्र वितरण करना शेष है। शासन द्वारा लोक हित, कृषक हित में उठाये गए इस महत्वपूर्ण कदम का व्यापक प्रसार-प्रचार ‘‘कृषक ऋण काफी तिहार‘‘ के माध्यम से समिति स्तर से आज से शुरू हो गया है। जिसमें कृषि ऋण के अतिरिक्त अन्य प्रकार के ऋणधारी किसानों और आमजनों को शासन की लोक कल्याणकारी कदम की जानकारी दी जाएगी। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here