गौ-वंशीय पशुओं की देखभाल और सुरक्षा के होंगे पर्याप्त प्रबंध: राजेश्री महन्त

0
2

(रायपुर) गौ-सेवा आयोग के नव नियुक्त अध्यक्ष राजेश्री महन्त रामसुन्दर दास ने 21 जुलाई मंगलवार को पदभार ग्रहण किया। गौ-सेवा आयोग कार्यालय में विधिवत पूजा अर्चना कर नवनियुक्त अध्यक्ष राजेश्री महन्त रामसुन्दर दास ने कृषि मंत्री माननीय श्री रवीन्द्र चौबे की विशेष मौजूदगी में पदभार ग्रहण किया। इस अवसर पर अध्यक्ष कृषक कल्याण परिषद श्री सुरेन्द्र शर्मा, पार्षद श्री ज्ञानेश शर्मा भी उपस्थित थे। इस अवसर पर गौ-सेवा आयोग के अधिकारियों ने शाल और श्री फल भेंट कर नवनियुक्त अध्यक्ष राजेश्री महंत और कृषि मंत्री श्री चौबे का सम्मान किया।
  

 पदभार ग्रहण कार्यक्रम के इस अवसर पर कृषि मंत्री श्री चौबे ने कहा कि नवनियुक्त अध्यक्ष के मार्गदर्शन में पशुओं के बेहतर संरक्षण एंव संवर्धन के लिये कार्य किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि गांवों में बने गौठानों के सफल संचालन में गौ-सेवा आयोग की महती भूमिका होगी। पशुधन की सुरक्षा की व्यवस्था की जाएगी। गौठानों में पशुओं के उत्तम स्वास्थ्य के लिए पशु चिकित्सा विभाग द्वारा नियमित परीक्षण भी कराया जाएगा।
    

अध्यक्ष राजेश्री महन्त रामसुन्दर दास ने कहा कि पशुओं के समुचित देखभाल के लिए सभी का सहयोग लिया जायेगा। छत्तीसगढ़ में गौ-वंशीय पशुओं के बेहतर रख-रखाव के लिये व्यापक उपाय किये जाएंगे। उन्होंने कहा कि कृषि कार्यो में गौ-वंशीय पशुओं का महत्वपूर्ण स्थान है। सरकार ने ग्राम स्तर पर पशुओं के लिए गौठानो का निर्माण किया गया है। इन गौठानों को बहुआयामी आर्थिक स्त्रोत केंद्र के रूप में विकसित किया जा रहा है। गौ-वंशीय पशुओं के संरक्षण और संवर्धन से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत किया जा सकेगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here