कर्ज माफी और बढ़ी दर धान खरीदी का फैसला राहतभरा पैगाम : शंभूनाथ ने चुकता किया ट्रेक्टर का कर्ज

0
46

(रायपुर) शासन के कर्ज मुक्ति के फैसले से किसान शंभूनाथ की दिक्कत दूर हो गई है। अब वह कर्ज को लेकर पेरशान नही रहता। शंभूनाथ ने बैंक से खेती-किसानी और ट्रेक्टर खरीदी के लिए लगभग दो लाख रूपए का कर्ज लेकर ट्रेक्टर खरीदा था। लेकिन वह कर्ज की बात को लेकर परेशान रहता था, उसे खेती-किसानी से इतनी आमदनी नही हो पा रही थी कि वह आसानी से बैंक का कर्ज चुका सके। ऐसे में नई सरकार की कर्ज मुक्ति और 2500 रूपए में प्रति क्विंटल धान की खरीदी का निर्णय शंभूनाथ के लिए एक राहत भरा पैगाम लेकर आई।  

नारायणपुर जिला मुख्यालय से महज कुछ दूरी पर ग्राम बिंजली में रहने वाले किसान श्री शम्भूनाथ बेहद परेशान रहते थे, क्योंकि उसने करीब दो लाख का कृषि ऋण और खेती-किसानी के लिए ट्रैक्टर खरीदने केे लिए भी बैंक से ऋण ले रखा था। वह यह सोच-सोच कर परेशान था कि वह यह कर्ज कैसे चुकाएगा। लेकिन किसानों का हित सोचने वाली नई सरकार ने पहली केबीनेट बैठक में ही किसानों के कृषि ऋण माफी और ढाई हजार रूपये प्रति क्विंटल पर धान खरीदी के फैसले के बाद उसके चेहरे पर खुशी आ गयी। ट्रैक्टर के लिए लिया गया कर्ज भी वह अब आसानी से चुकता होगा।

किसान श्री शम्भूनाथ के माथे से दुख की लकीर अब मिट गयी है। उन्होंने ट्रेक्टर के लिए गए कर्ज की अधिकांश राशि चुकता कर दी है। श्री शम्भू ने चर्चा में बताया कि कर्ज माफी और 2500 रूपए प्रति क्विटंल की मान से धान खरीदी से बहुत राहत मिली है। सरकार के फैसले से उनके जैसे कई किसानों का भी कर्ज माफी का लाभ मिला है। उल्लेखनीय है कि नारायणपुर जिले में कुल 4272 किसानों ने कृषि ऋण लिया है। जिसमें से जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक से 4209 छत्तीसगढ़ ग्रामीण बैक से 63 किसानों ने कृषि के लिए कर्ज लिया है। इस प्रकार कृषि ऋण की कुल राशि लगभग 20 करोड़ 24 लाख 13 हजार 865 है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here