सरबत सेहत योजना के अंतर्गत 45 लाख ई-कार्ड बनाए

0
5

(चंडीगढ़) आज स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री स. बलबीर सिंह सिद्धू के नेतृत्व में ई-कार्ड बनाने वाली एजेंसी और सरबत सेहत योजना में हिस्सा डालने वाले विभागों जैसे पंजाब मंडी बोर्ड और श्रम विभाग के साथ एक मीटिंग की गई। मीटिंग के दौरान यह देखा गया है कि इस स्कीम के अंतर्गत अब तक 45 लाख ई-कार्ड बनाऐ गए हैं और राज्य भर के 4.66 लाख लाभपात्री 528.08 करोड़ रुपए की लागत से सूचीबद्ध अस्पतालों से कैशलैस इलाज करवा चुके हैं।

स. सिद्धू ने बताया कि अब तक ई-कार्ड बनाने में 5 जिले लुधियाना, अमृतसर, पटियाला, फाजिल्का और जालंधर अग्रणी रहे हैं। उन्होंने ई-कार्ड बनाने वाली एजेंसी की योजना का जायज़ा भी लिया और अगले 6 महीनों के अंदर-अंदर सभी लाभपात्रियों को ई-कार्ड जारी करने की हिदायत की। इसके साथ ही उन्होंने एजेंसी को प्रति दिन कम से -कम 10,000 ई -कार्ड बनाने का लक्ष्य दिया।

स्वास्थ्य मंत्री ने ज़ोर देकर कहा कि सरबत सेहत बीमा योजना राज्य की एक प्रमुख स्वास्थ्य बीमा योजना है और इसलिए यह भरोसा दिलाया जाना चाहिए कि हरेक लाभपात्री को हैल्थ कार्ड जारी किया जा सके। उनको स्कीम के अंतर्गत अपनी बनती योग्यता से अवगत करवाया जाये जिससे हैल्थ कार्ड का प्रयोग करते वह स्कीम के लाभ लेने के योग्य बन सकें।
मंत्री ने पंजाब मंडी बोर्ड के प्रतिनिधियों को सलाह देते हुये कहा कि वह हरेक मार्केट कमेटी में अपने आपरेटर को लगाने के लिए ई -कार्ड बनाने वाली एजेंसी के साथ तालमेल करने के लिए मार्केट कमेटियों के सचिवों को शामिल किया जाये जिससे सभी योग्य किसान परिवारों के लिए ई -कार्ड तैयार किये जा सकें।

श्री. सिद्धू ने इच्छा ज़ाहिर की कि सभी विभाग अपने सम्बन्धित लाभपात्रियों में जागरूकता पैदा करने के लिए ई -कार्ड बनाने वाली मुहिम में सक्रियता से भाग लेने के लिए आगे आएं और अपने ई-कार्ड तैयार करवाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here