ग्रामीण क्षेत्रों में आत्मनिर्भरता बढ़ाने और रोजगार सृजन पर दे विशेष जोर- मंत्री श्री रविन्द्र चौबे

0
1

(रायपुर) प्रदेश के कृषि विकास एवं किसान कल्याण, जल संसाधन तथा रायगढ़ जिले के प्रभारी मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने आज विडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से अधिकारियों की बैठक लेकर रायगढ़ जिले में चल रहे विकास कार्यों और शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन की समीक्षा की। उन्होंने ग्रामीण अंचल में स्वरोजगार और आत्मनिर्भरता को प्रोत्साहित करने के लिए विशेष जोर दिया और विभिन्न विभागीय कार्यों को मनरेगा से संबद्ध करते हुए रोजगार सृजन को बढ़ावा देने के निर्देश दिए।

बैठक में उन्होंने कोरोना के संबंध में स्वास्थ्य विभाग से जिले में होम आइसोलेशेन में रखे लोग, टेस्ट की संख्या, एक्टिव सर्विलेंस की जानकारी ली। साथ ही उन्होंने कोविड अस्पताल और जिले में बनाये क्वारेंटीन सेंटर्स के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि होम आइसोलेशन और क्वारेंटीन में रखे गये लोगों की नियमित मॉनिटरिंग की जाए। इसके साथ ही उन्होंने अन्य प्रदेशों से आने वाले लोगों की वापसी के संबंध में की जा रही अंतर्विभागीय तैयारियों की भी समीक्षा की तथा शासन की एडवाइजरी के अनुसार समस्त कार्य समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिए।
  

 प्रभारी मंत्री श्री चौबे ने बैठक में कहा कि गौठानों के आसपास तालाब निर्माण, सिंचाई विभाग के नहर से जुड़े सफाई और अन्य कार्य, वृक्षारोपण के लिए नदी किनारे भूमि तैयार करना जैसे कार्यों को मनरेगा से जोडने के निर्देश दिए। इसके साथ ही गौठानों में मुर्गी पालन, बकरी पालन तथा ग्रामीण क्षेत्रों में उपलब्ध संसाधनों के माध्यम से आत्मनिर्भरता बढ़ाने वाली गतिविधियों की कार्ययोजना बनाकर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

उन्होंने मत्स्य विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए निजी तथा स्व-सहायता समूह के अधीन डबरी और तालाबों में मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए प्रदर्शनी लगाने के भी निर्देश दिए।
प्रभारी मंत्री श्री चौबे ने वन विभाग से वृक्षारोपण की जानकारी ली तथा खाली पड़े शासकीय जमीन पर आम, कटहल, मुनगा जैसे फलदार पौधांे के अधिक संख्या में पेड़ लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कृषि विभाग से खाद और बीज की उपलब्धता, भण्डारण, वितरण तथा उसके सैंपलिंग की जानकारी ली और जिले में मक्का फसल का रकबा बढ़ाने के निर्देश दिए।

खाद्य विभाग की समीक्षा के दौरान धान खरीदी और उठाव की जानकारी ली और समितियों से उठाव नहीं हुए धान के तत्काल उठाव करवाने के निर्देश डीएमओ को दिए। लॉक डाउन के दौरान शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में राशन कार्ड निर्माण तथा नये सदस्यों को जोडने की जानकारी भी उन्होंने ली। खनिज तथा औद्योगिक गतिविधियों के बारे में कलेक्टर श्री यशवंत कुमार ने बताया कि लॉक डाउन के दौरान उक्त गतिविधियां शासन के निर्देशों के अनुरूप संचालित हो रही है। सोशल एवं फिजिकल डिस्टेसिंग का पालन करवाते हुए न्यूनतम लोगों के साथ कार्य हो रहा है, जिसकी संबंधित विभागों द्वारा नियमित जांच भी की जा रही है।

प्रभारी मंत्री श्री चौबे ने पूरक पोषण आहार तथा मध्यान्ह भोजन का खाद्यान्न हितग्राहियों के घरों तक पहुंचाकर देने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया। इसके अलावा पढ़ाई तुंहर द्वार एप के माध्यम से पंजीकृत शिक्षकों व बच्चों की संख्यात्मक जानकारी लेने के साथ नियमित रूप से ऑनलाईन पढ़ाई जारी रखने हेतु शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया।

उन्होंने कानून व्यवस्था की स्थिति के बारे में पुलिस अधीक्षक श्री संतोष कुमार सिंह से विस्तार से जानकारी ली। प्रभारी मंत्री श्री चौबे ने प्रवासी मजदूरों के लिए भोजन और आवास का उचित प्रबंध करने के निर्देश दिए। साथ ही पैदल आ रहे लोगों के लिए आवागमन की व्यवस्था करने के लिए निर्देशित किया। बैठक के दौरान एडीएम श्री राजेन्द्र कुमार कटारा, सीईओ जिला पंचायत सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी तथा अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here