पंजाब सरकार द्वारा 8393 रेगुलर अध्यापकों की भर्ती के लिए विज्ञापन जारी

0
30

(चंडीगढ़) मुख्यमंत्री पंजाब कैप्टन अमरिन्दर सिंह की तरफ से बीते दिनों स्मार्ट स्कूल मुहिम के समागम के दौरान प्री-प्राईमरी कक्षाओं के लिए रेगुलर अध्यापकों की नियुक्ति करने के ऐलान को अमली रूप देते हुये पंजाब सरकार द्वारा 8393 अध्यापकों की भर्ती के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है।

स्कूल शिक्षा मंत्री पंजाब श्री विजय इंदर सिंगला ने और ज्यादा जानकारी देते हुये बताया कि देश के पहले राज्य के तौर पर नवंबर 2017 में शुरू की गई प्री-प्राईमरी कक्षाओं को पक्के अध्यापक देने के लिए 8393 पद नोटीफायी करने के उपरांत शिक्षा भर्ती डायरैक्टोरेट पंजाब अधीन जनतक नियुक्तियों के अंतर्गत 1 दिसंबर से 20 दिसंबर तक योग्य उम्मीदवारों से ऑनलाइन आवेदनों की माँग कर ली गई है। उन्होंने कहा कि इस भर्ती प्रक्रिया को पूरा करने के बाद प्री-प्राईमरी कक्षाओं के लिए सरकारी स्कूलों में पक्के अध्यापक भर्ती करने वाला पंजाब देश भर में से पहला राज्य बन जायेगा।

कैबिनेट मंत्री विजय इंदर सिंगला ने बताया कि इस भर्ती का एक अन्य बड़ा पक्ष यह है कि शिक्षा विभाग में लम्बे अरसे से कार्यशील शिक्षा प्रोवाईडरों, एजुकेशन प्रोवाईडरों, एजूकेशन वालंटियरों, ई.जी.एस. वालंटियरों, ए.आई.ई. वालंटियरों और एस.टी.आर. वालंटियरों को रेगुलर अध्यापक बनने का भी सुनहरा मौका मिल गया है। उन्होंने कहा कि इन वालंटियरों को इस भर्ती में आयु समी की विशेष छूट दी गई है।

श्री सिंगला ने कहा कि पंजाब के सरकारी स्कूलों में 3से 6साल तक के बच्चों के लिए प्री-प्राईमरी शिक्षा तीन साल पहले आरंभ की गई थी, जिसके बहुत ही सार्थक नतीजे सामने आए हैं। इसके अंतर्गत प्री-प्राईमरी शिक्षा के मानक में विस्तार करने हेतु पंजाब सरकार की तरफ से प्री-प्राईमरी अध्यापकों की भर्ती करने का फ़ैसला किया गया है जिससे छोटे बच्चों के लिए पक्के अध्यापकों की माँग को पूरा किया जायेगा। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में मानक सुधार लाने के लिए बड़े स्तर पर यत्न किये जा रहे हैं और अब सरकारी स्कूलों में अध्यापकों की कमी भी नहीं रहने दी जायेगी।

भर्ती बोर्ड डायरैक्टोरेट की तरफ से जारी पत्र के अनुसार शैक्षिक योग्यता में बारहवीं या इसके बराबर की परीक्षा में कम से कम 45 प्रतिशत अंक और डिप्लोमा सर्टिफिकेट इन नर्सरी टीचर ऐेजूकेुशन प्रोग्राम या इसके बराबर का कोई अन्य कोर्स किया हो, के साथ दसवीं में पंजाबी लाजि़मी या चुनिंदे विषय के तौर पर परीक्षा पास की हो निर्धारित की गई है। इन पदों के लिए आयु सीमा 18 से 37 आयु रखी गई है परन्तु शिक्षा विभाग के नोटिफिकेशन के अनुसार पंजाब के सरकारी स्कूलों में काम कर रहे शिक्षा प्रोवाईडरों, एजूकेशन प्रोवाईडरों, एजूकेशन वालंटियरों, ई.जी.एस. वालंटियरों, ए.आई.ई. वालंटियरों, एस.टी.आर. वालंटियरें को आयु की ऊपरी सीमा में की गई सेवा के बराबर छूट दी गई है। तलाकशुदा महिलाओं, विधवाओं, अनुसूचित जाति और पिछड़ी श्रेणी के उम्मीदवारों को ऊपरी आयु सीमा में 5 साल की छूट दी गई है।

कैटागरी वाइज़ पोस्टों के अंतर्गत 8393 पोस्टों में से जनरल 3273, अनुसूचित जाति (एम और बी) 840, अनुसूचित जाति (आर और ओ) 839, अनुसूचित जाति (पूर्व फ़ौजी)(एम और बी) 168, अनुसूचित जाति (पूर्व फ़ौजी)(आर. और ओ) 168, अनुसूचित जाति (खिलाड़ी)(एम और बी) 42, अनुसूचित जाति (खिलाड़ी)(आर और ओ) 42, पिछड़ी श्रेणियां 839, पिछड़ी श्रेणियां (पूर्व फ़ौजी) 168, खिलाड़ी (जनरल) 167, स्वतंत्रता सेनानी 84, पूर्व फ़ौजी (जनरल) 588, अपंग वर्ग के अंतर्गत वीज़ुअली इम्पेअरड, हियरिंग इम्पेयर, ओरथोपैडीकली डिसएबलड और इंटैलैकचुअली डिसएबिलीटी या मल्टीपल डिसेबिलिटी वर्गों के लिए 84-84, जनरल श्रेणी के इकनामीकली वीकर सैक्शन के लिए 839 पद आरक्षित किये गये हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here