किसानों को मांग के अनुरूप प्रमाणित बीज उपलब्ध कराएं – कृषि उत्पादन आयुक्त श्री राव

0
6

(रायपुर) अपर मुख्य सचिव एवं कृषि उत्पादन आयुक्त श्री के.डी.पी.राव ने कल यहां मंत्रालय (महानदी भवन) सभाकक्ष में राज्य स्तरीय बैंकर्स कॉमेटी की बैठक में कृषि और इससे जुड़े विभागो के कार्यो की गहन समीक्षा की। उन्हांेने किसानों को प्रमाणित बीज की उपलब्धता पर जोर दिया और कहा कि धान, दलहन, तिलहन उत्तम किस्म के बीज मांग के अनुरूप उपलब्ध कराए। बस्तर में मक्का और जशपुर में कटहल के प्रोसेसिंग यूनिट तैयार करने के भी निर्देश दिए। उन्हांेंने कहा शासन की मंशा के अनुरूप नरवा, गरवा, घुरवा एवं बारी पर आधारित कार्य योजना बनाएं।

कृषि उत्पादन आयुक्त ने प्रदेश में धान, सोयाबीन, मक्का आदि फसलों के क्षेत्रानुसार कृषकों को उत्तम किस्म के प्रमाणित बीज उपलब्घ कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बस्तर अंचल में सबसे अधिक मक्का उत्पादन होता है। मक्का उत्पादक किसानों को उनकी मेहनत का अच्छा लाभ दिलाने के लिए वहां मक्का प्रोसेसिंग यूनिट लगाया जा सकता है। उन्होंने इस कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ करने के निर्देश दिये।

श्री राव ने कहा कि सोयाबीन नगदी फसल है, इस फसल के रकबे में विस्तार करने किसानों को प्रोत्साहित किया जाए। किसनों को अच्छे किस्म के बीज समय पर उपलब्ध कराई जाए। उन्होेंने कृषको के मांग के अनुरूप बीज उपलब्ध कराने के लिए बीज निगम के फर्म एवं पंजीकृत कृषकों की संख्या बढ़ाकर अन्य प्रदेशांे में बीज विक्रय करने भी कहा। गन्ना उत्पादक कृषकों को समर्थन मूल्य पर की जा रही खरीदी की समीक्षा में गन्ना से गुड़ बनाने वाले कृृषकांे को सही कीमत दिलाने के लिए कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए। 

कृषि उत्पादन आयुक्त ने समीक्षा के दौरान कहा कि केरल में कटहल से विभिन्न प्रकार के खाद्य सामग्री बनायी जाती है। इसी प्रकार प्रदेश के जशपुर एवं अम्बिकापुर क्षेत्र में भी अच्छा उत्पादन होता है, किसानों को कटहल से अतिरिक्त आमदनी दिलाने के लिए कटहल प्रोसेसिंग यूनिट लगाने के लिए परीक्षण कर प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। समीक्षा में कृषि एवं उत्पादन आयुक्त श्री राव ने कृषकों की खेती जमीन का मिट्टी परीक्षण कर मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरण कराने एवं ‘श्री पद्धति‘ से धान का रोपा लगाने को बढ़ावा देने तथा नदी, नालों के पानी को रोककर आस-पास के कृषकों के खेतों में सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध कराने के संबंध में निर्देश दिए। बैठक में कृषि विभाग के सचिव श्री हेमन्त कुमार पहारे, संचालक कृषि श्री एस.के. केरकेट्टा, बीज निगम के एम.डी., मार्कफेड के एम.डी, सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here