गौठानों से होने लगी कमाई : वर्मी खाद बेचकर महिलाओं ने कमाए 74 हजार रूपए

0
2

(रायपुर) छत्तीसगढ़ सरकार की नरवा, गरूवा, घुरवा, बारी योजना के तहत गौठानों से आमदनी शुरू हो गई है। बिलासपुर जिले के कोटा विकासखण्ड के विभिन्न गौठानों में  महिला स्व सहायता समूह वर्मी खाद बेच कर अच्छी आय प्राप्त कर रही हैं। खेती-बाड़ी के इस मौसम में गौठनों में तैयार जैविक खाद की मांग भी काफी बढ़ गई है। गौठानों में स्व सहायता समूह की महिलाएं गोबर से वर्मी कम्पोस्ट खाद बना कर किसानों को बेच रही है।

ग्राम शिवतराई के गौठान में वर्मी कम्पोस्ट खाद का उत्पादन करने वाली महामाया महिला स्व सहायता ने एक दिन में 60 क्विंटल वर्मी खाद बेचकर 48 हजार रूपए की कमाई की है। इसी तरह ग्राम नेवसा के गौठान में जय माँ लक्ष्मी महिला स्व सहायता समूह ने 12 हजार रूपए और ग्राम परसदा के गौठान में उत्पादित वर्मी खाद बेचकर 14 हजार रूपए से अधिक की कमाई महिला स्व सहायता समूह ने की है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here