गौठानों से ग्रामीणों को मिल रहा है रोजगार : कृषि मंत्री श्री चौबे

0
49

(रायपुर) कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने आज बलौदाबाजार जिले के पलारी विकासखण्ड के अंतर्गत ग्राम हरिनभट्टा के गौठान का आकस्मिक निरीक्षण कर गोधन न्याय योजना का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने गौठान में ही निर्मित वर्मी कंपोस्ट खाद के विक्रय केंद्र की शुरुआत की। श्री रविन्द्र चौबे ने महिला समूह को 6 हजार रूपए का चेक प्रदान कर इसका विधिवत शुभारंभ किया। इस दौरान मत्स्य विभाग द्वारा विभिन्न हितग्राहियों को जाल, फिश कंटेनर प्रदान किया गया। पशुपालन विभाग द्वारा कमजोर पशुओं के लिए निःशुल्क दवाइयों के वितरण के साथ-साथ ही कृषि विभाग के द्वारा भी विभिन्न हितग्राहियों को स्प्रेयर किट प्रदान किया गया। 
    

कृषि मंत्री श्री चौबे ने मौके पर ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान की महिलाओं द्वारा लगाई गई हस्तनिर्मित के सामग्रियों की प्रदर्शनी को सराहा। जिसमें मसाले, अगरबत्ती, साबुन, सीएफएल बल्ब, गोबर से बने दीए एवं अन्य सामग्रियां शामिल थे। इस दौरान उन्होंने महिला समूह के सदस्यों से भी चर्चा कर उनके आमदनी के बारे में विस्तृत जानकारी ली। इसके साथ ही उन्होंने गौठान में सभा को भी सम्बोधित किया। मंत्री श्री चौबे ने इस दौरान ग्रामीणों की मांग पर समोदा डायवर्सन का शेष कार्य जल्द ही पूरा करने के आश्वस्त किया। इससे जिले के 36 गांव लाभन्वित होंगे। साथ ही उन्होंने टेंगना नाला में एक एनीकेट को स्वीकृति देतें हुए हरिनभट्टा बांध के विस्तार को भी अगली बजट में शामिल करने का आश्वासन ग्रामीणों को दिया।
    

गौठान में महारानी लक्ष्मीबाई महिला स्व-सहायता समूह के द्वारा अब तक 20 क्विंटल वर्मी कंपोस्ट का निर्माण किया जा चुका है। जिसमें से 6 क्विंटल खाद को कृषि विभाग के द्वारा खरीदी कर लिया गया है। महिला समूह की अध्यक्ष सुश्री सविता पटेल ने बताया कि 10 रुपया प्रति किलो की दर से यह खाद बेचा गया है। जिसके तहत आज 6 हजार रुपए की राशि प्राप्त हुई है। कृषि विभाग द्वारा शेष 14 क्विंटल खाद भी आने वाले दिनों में खरीद लिया जाएगा। उसी तरह गौठान के बाड़ी में एकता महिला स्व सहायता समूह द्वारा जुलाई माह से अब तक 13 हजार रुपए की सब्जियों का विक्रय किया जा चुका है। गौठानों में इस तरह की संचालित गतिविधियों से यह ग्रामीण आजीविका का एक बड़ा केंद्र बनता जा रहा है।
    

गौठान प्रबंधन समिति के अध्यक्ष श्री जयंत साहू ने बताया गौठान में कुल 235 पशुपालक और 122 पंजीकृत गोबर विक्रेता है। अब तक गोठान में 2 हजार 942 क्विंटल गोबर की खरीदी की गई है। जिसके  लिए अभी तक 2 हजार 361 क्विंटल का 4 लाख 72 हजार 310 रुपए का भुगतान किया गया है। इसके साथ ही पैरादान अभियान के अंतर्गत 13 दानदाता द्वारा 200 क्विंटल पैरा का संग्रह किया गया है। इस अवसर पर मंत्री श्री चौबे ने पशुपालक पीताम्बर यादव को सम्मानित भी किया। गाँव के पंजीकृत पशुपालक पीताम्बर यादव ने अब तक 130 क्विंटल गोबर बेचकर 26 हजार रुपये की अतिरिक्त आमदनी प्राप्त की है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here