किसानों के साथ एकजुटता दिखाते हुए विजय इंदर सिंगला भूख हड़ताल पर बैठेंगे

0
33

(चंडीगढ़) पंजाब स्कूल शिक्षा मंत्री श्री विजय इंदर सिंगला ने आज ऐलान किया कि वह 23 दिसंबर को राष्ट्रीय किसान दिवस के अवसर पर मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के काले खेती कानूनों के विरोध में भूख हड़ताल पर बैठेंगे।

इस सम्बन्धी ट्वीट करते हुए श्री सिंगला ने कहा, ‘‘मैं किसान दिवस के अवसर पर अपने किसानों और आढ़तियों की माँगों के समर्थन में और भाजपा की केंद्र सरकार के क्रूर खेती कानूनों के विरुद्ध भूख हड़ताल पर बैठूंगा।’’

‘‘मैं सभी से अपील करता हूँ कि केंद्र की ज़ालिम सरकार और इसकी लोक विरोधी नीतियों के विरुद्ध एकजुटता के साथ खड़े हों।’’

श्री सिंगला ने समाज के सभी वर्गों को केंद्र की अत्याचारी सरकार और इसकी क्रूर नीतियों के विरुद्ध और किसानी भाईचारे के साथ एकजुटता के साथ खड़े होने की अपील करते हुए कहा कि केंद्र सरकार किसानों और इसके साथ जुड़े वर्गों में आपसी फूट डालने की भद्दी चालें चल रही है परन्तु किसानों का विरोध प्रदर्शन दिनों-दिन चरम की ओर बढ़ता जा रहा है और यह विरोध किसानों के बनते हक मिलने के उपरांत ही ख़त्म होगा।

पंजाब के आढ़तियों पर आयकर विभाग की छापेमारियों को भद्दी चाल बताते हुए श्री सिंगला ने कहा कि भाजपा नेताओं को यह बात हज़म नहीं हो रही कि आढ़ती भाईचारे की तरफ से किसानों को पूर्ण समर्थन दिया जा रहा है। किसानों के विरोध को कमज़ोर करने के लिए केंद्र सरकार के इशारे पर ग़ैर कानूनी तरीके अपनाते हुए छापेमारियां की जा रही हैं। उन्होंने आगे कहा, ‘‘भाजपा नेता आढ़तियों और किसानों के पीढ़ी-दर-पीढ़ी चले आ रहे संबंधों को ख़त्म करने में सफल नहीं होंगे।’’

श्री सिंगला पिछले कई दिनों से राज्य के आढ़तियों के साथ लगातार मीटिंगें कर रहे हैं। उन्होंने आढ़ती भाईचारे को भरोसा दिया है कि इस मुश्किल की घड़ी में पंजाब सरकार और कांग्रेस पार्टी उनके साथ डटकर खड़ी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here