गोधन न्याय योजना से हो रही अतिरिक्त आय से ग्रामीणों की पूरी होने लगी जरूरतें

0
31

(रायपुर) प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना गोधन न्याय योजना के सकारात्मक परिणाम सामने आने लगे हैं। पशुपालन करने वाले ग्रामीण किसान इस योजना से मिलने वाली राशि से अपनी घर-गृहस्थी की जरूरत का सामान भी खरीदने लगे हैं। इस योजना के तहत हर पखवाड़े मिलने से राशि से अब उनके जरूरतें पूरी होने लगी है।  

 कोरिया जिले के जनपद पंचायत सोनहत के ग्राम पंचायत केशगवां की रहने वाली इन्द्रकुंवर ने गोधन न्याय योजना के तहत 1086 किलो ग्राम गोबर का विक्रय किया जिसके एवज में उन्हें 2172 रूपये प्राप्त हुई। इन्द्रकुंवर ने इस राशि से वेट मशीन खरीदी है। ग्राम पंचायत सुन्दरपुर के पशुपालक किसान श्री महेश्वर ने गौठान में 1197 किलो ग्राम गोबर विक्रय कर 2394 रूपये प्राप्त होने पर घर के लिए जरूरी सामग्री खरीदी। अपनी खुशी का इजहार करते हुए दोनों ने बताया कि गोधन न्याय योजना उनके लिए अतिरिक्त आय का साधन बनी है। जिससे वे उन चीजों को खरीदने में सक्षम हुए हैं, जिनकी आवश्यकता होने पर भी राशि के अभाव में क्रय नहीं कर पा रहे थे। उन्होंने मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के प्रति आभार व्यक्त किया कि उन जैसे लाखों ग्रामीणों एवं किसानों को गोधन न्याय योजना के जरिए आय का अतिरिक्त जरिया दिया है। उल्लेखनीय है कि हरेली पर्व के अवसर पर प्रदेश सरकार द्वारा गोधन न्याय योजना शुरू की गई है। योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में पशुओं के संरक्षण एवं संवर्धन के साथ ही ग्रामीणों को अतिरिक्त आय सुलभ कराना तथा जैविक खेती को बढ़ावा देना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here